अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के साथ योगी सरकार कर रही है नाइंसाफीः ललन कुमार


    हमारे प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के साथ योगी सरकार कर रही है नाइंसाफी, कितना भी दमन हो, सेवा से पीछे नहीं हटेंगे- ललन कुमार

     लखनऊ,  यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू जी को बस मामले में फर्जी केस लगाकर गिरफ्तार किया गया। उसके बाद से ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं में आक्रोश है। अगले दिन कई जगहों पर लॉकडॉउन का पालन करते हुए इस पर ज्ञापन दिया गया। लेकिन फिर भी भाजपा सरकार ने हमारे 90 कार्यकर्ताओं पर मुकदमा लगा दिया। इसमें पूर्व विधायक व पूर्व नेता विधानमंडल दल श्री प्रदीप माथुर, पूर्व विधायक श्री अनुग्रह नारायण सिंह, पूर्व एमएलसी श्री विवेक बंसल व यूपी कांग्रेस के उपाध्यक्ष व पूर्व विधायक श्री पंकज मलिक जी भी शामिल हैं।

    यूपी कांग्रेस मीडिया संयोजक ललन कुमार ने जानकारी देते हुए कहा कि राजीव गांधी जी के शहादत दिवस (21 मई) के मौके पर राजीव जी की शहादत को सलाम करते हुए पूरे प्रदेश से लगभग 50,000 कार्यकर्ताओं ने फेसबुक लाइव के जरिए इस दमन के खिलाफ आवाज उठाई। उसके बाद 27 तारीख को कई जगहों पर राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया गया और सोशल मीडिया के जरिए काली पट्टी बांधकर इसके खिलाफ आवाज उठाई गई।

     उन्होंने बताया कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष की गिरफ्तारी के खिलाफ कार्यकर्ताओं में भयंकर रोष है। प्रदेश भर के कार्यकर्ताओं ने इस बात को ठाना है कि चूंकि श्री अजय कुमार लल्लू जी की गिरफ्तारी सेवा कार्य को रोकने के लिए की गई है इसलिए प्रदेश के कार्यकर्ता सेवा कार्य नहीं रोकेंगे।

    जारी प्रेस नोट में मीडिया विभाग के संयोजक ने कहा कि कई जगहों पर गिरफ्तारी के विरोध में जल सत्याग्रह, मशाल जुलूस और धरने हुए। यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने हवन करके प्रदेश भाजपा सरकार को सद्बुद्धि की कामना करते हुए अजय लल्लू जी की रिहाई की मांग की।

    उन्होंने बताया कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने लखनऊ व दिल्ली में इस मुद्दे पर प्रेस कांफ्रेंस के जरिए इसका विरोध किया। कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी जी, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष श्री राहुल गांधी जी ने प्रदेश अध्यक्ष जी के माता-पिता से बात की और इस दमन के खिलाफ आवाज उठाई। कई अन्य प्रदेशों के कांग्रेस नेताओं ने भी यूपी अध्यक्ष समेत अन्य कार्यकर्ताओं पर हो रहे दमन के खिलाफ आवाज बुलंद की।