भाजपा ने प्रदेश में 98 संगठनात्मक जिलों में किया संवाद व सम्पर्क : स्वतंत्र देव सिंह


       - हिमांशु दुबे


      लखनऊ, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले वर्ष की उपलब्धियां लेकर भारतीय जनता पार्टी आम जनमानस के बीच पहुंच रही है। मोदी सरकार के निर्णयों को लेकर पार्टी ने एक जून से तीन जून तक वीडियों कान्फ्रेसिंग के माध्यम से संवाद व सम्पर्क कार्यक्रम किये। जिन कार्यक्रमों में डाक्टर, इंजीनियर, अधिवक्ता, शिक्षक, व्यापारी, उद्यमी आदि प्रबुद्ध वर्ग के बीच सरकार के एक वर्ष के कार्यकाल का लेखा-जोखा रखा गया। आज पार्टी के सभी संगठनात्मक 98 जिलों पर संवाद व सम्पर्क अभियान पूर्ण हुआ। संवाद सम्पर्क अभियान के तहत पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, डा. दिनेश शर्मा, राष्ट्रीय महामंत्री अरूण सिंह, डा. अनिल जैन, केन्द्रीय मंत्री डा0 महेन्द्र नाथ पाण्डेय, राष्ट्रीय प्रवक्ता डा0 सुधाशं त्रिवेदी सहित प्रदेश सरकार के मंत्री, पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष, महामंत्री, क्षेत्रीय अध्यक्ष व क्षेत्रीय संगठन मंत्री मोदी सरकार के कामकाज को लेकर जनता के दरबार में पहुंचे।


      पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने अभियान की समीक्षा करते हुए कहा कि यह भाजपा की परम्परा है कि वह अपनी सरकारों के काम-काज और निर्णयों को जनता के दरबार में लेकर जाती है। ताकि जनता उसका सही मूल्यांकन करे और सही निर्णय करे। भाजपा की यही विशेषता है कि जनता के द्वारा चुनी गई सरकार के निर्णयों की समीक्षा तथा सुझाव जनता द्वारा तय होते है। आप सभी ने पूरी मेहनत और परिश्रम से इस अभियान को सफल बनाया है आप सभी को बधाई।


श्री सिंह ने कहा कि मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला वर्ष ऐतिहासिक भूलों की सुधार का रहा तथा राष्ट्रहित में लिए गए कठोर निर्णयों का रहा। पार्टी के निर्माण के साथ ही अनुच्छेद 370 व 35ए की समाप्ति, रामजन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण तथा पाकिस्तान, बांगलादेश व अफगानिस्तान में धार्मिक रूप से प्रताड़ित हिन्दु, सिख, बौद्ध आदि को भारत की नागरिकता दिलाने का जो संकल्प लेकर हम आगे बढे़ उन सकल्पों की पूर्णता का यह वर्ष रहा।


प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि कठोर निर्णयों के साथ ही गरीब, किसान, नौजवान की कमाई व दवाई की समुचित व्यवस्था के लिए मोदी सरकार ने ठोस कदम उठाए है। जन-जन का बेहतर जीवन स्तर हो तथा उसे बेहतर शिक्षा व बेहतर चिकित्सा मिले इसी संकल्प सिद्धि के लिए मोदी सरकार कार्य कर रही है। कोरोना संक्रमण काल में मोदी सरकार ने जो निर्णय लिए उन निर्णयों की विश्व ने मुक्तकंठ से प्रशंसा की है। लाॅकडाउन के समय गरीब, महिला, किसान, मजदूर के खाते में धन और थाली में खाद्यान्न की व्यवस्था की गई। प्रवासी श्रमिकों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए स्पेशल टेªने चलाई गई। तो वहीं प्रदेश में मुख्यमंत्री मा. योगी आदित्यनाथ ने प्रवासी श्रमिकों को घर पहुंचाने का काम किया। योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में चाकचैबंद कानून व्यवस्था तथा समुचित चिकित्सा की व्यवस्था करके अन्य राज्यों को भी प्रेरित किया। पार्टी का एक-एक कार्यकर्ता नर सेवा-नारायण सेवा के भाव के साथ सेवा कार्य में लगा हुआ है। हम अपने एक-एक कार्य को लेकर जनमानस के बीच है।