ग्राम पंचायतों की वार्षिक कार्ययोजना ई-ग्राम स्वराज पोर्टल पर यथाशीघ्र अपलोड करायें-रवि शंकर द्विवेदी

         प्रतापगढ़, जिला पंचायत राज अधिकारी रवि शंकर द्विवेदी ने कार्ययोजना वित्तीय वर्ष 2020-21 की जानकारी देते हुये अवगत कराया है कि 15वें वित्त आयोग की संस्तुतियों से वित्तीय वर्ष 2020-21 में प्राप्त होने वाली धनराशि का 50 प्रतिशत टाइड फण्ड के रूप में एवं 50 प्रतिशत अनटाईड फण्ड के रूप में व्यय की जायेगी। अनटाइड फण्ड से वे सभी कार्य कराये जा सकते है जो 14 वें वित्त आयोग की संस्तुतियों से प्राप्त धनराशि से कराये जाते थे।


     टाइड फण्ड का उपयोग बुनियादी सेवाओं यथा स्वच्छता व खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) की स्थिति के रख-रखाव, पेयजल आपूर्ति, वर्षा जल संचयन व जल पुनर्चक्रण (वाटर रिसाईक्लिंग) के रख-रखाव के लिये उपयोग किया जा सकता है। ग्राम पंचायतों द्वारा वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिये बनायी जा रही कार्ययोजना में 01 अप्रैल 2020 को चतुर्थ राज्य वित्त एवं 14वें वित्त आयोग की अवशेष धनराशि के बराबर कार्य लिया जायेगा। 15वें वित्त आयोग के लिये वित्तीय वर्ष 2019-20 में 14वें वित्त आयोग की संस्तुतियों से वित्तीय वर्ष 2019-20 में आवंटित धनराशि के बराबर तथा पंचम वित्त आयोग के लिये वित्तीय वर्ष 2019-20 में आवंटित धनराशि से 20 प्रतिशत अधिक धनराशि की कार्ययोजना बनायी जायेगी। समस्त सहायक विकास अधिकारी (पंचायत) अपने विकास खण्ड के अन्तर्गत आने वाली समस्त ग्राम पंचायतों की वार्षिक कार्ययोजना ई-ग्राम स्वरोज पोर्टल पर यथाशीघ्र अपलोड करायें।