इंटरलॉकिंग की पटाई के विवाद में आपसी समझौते से मामले का हुआ निस्तारण


    इंटरलॉकिंग की पटाई के विवाद में आपसी समझौते से मामले का हुआ निस्तारण,पुलिस व राजस्व टीम की मौजूदगी में मामले का हुआ निस्तारण।


अब्दुल जब्बार व विकास वीर यादव


      भेलसर(अयोध्या)रूदौली तहसील क्षेत्र के अशरफपुर गंगरेला गांव में सोमवार की शाम को इंटरलॉकिंग पटाई को लेकर दो पक्षों में विवाद हुआ था।जिसको लेकर दोनों पक्षो ने उपजिलाधिकारी रुदौली से न्याय के लिए प्रार्थना पत्र दिया था।मामले को संज्ञान लेते हुए उपजिलाधिकारी ने राजस्व टीम व पुलिस की संयुक्त टीम को मामले का निस्तारण करने का आदेश दिया।


    बुधवार को राजस्व टीम मौके पर पहुँचकर पुलिस व पूर्व मंडल अध्यक्ष निर्मल शर्मा की मौजूदगी में आपसी समझौते के साथ मामले का निस्तारण किया गया।मामला मात्र दो फिट का था।जो लेबर द्वारा मिट्टी की पटाई के दौरान कुछ मिट्टी बगल के खेत मे चली जाने से विवाद खड़ा हो गया था।जिस पर कुछ लोगो द्वारा आपसी रंजिश के चलते मामले को अनावश्यक तूल दे दिया गया।उक्त मामले में कई बार समझौता भी हुआ था।लेकिन एक पक्ष मानने को तैयार नही था।विधायक निधि द्वारा इंटरलॉकिंग का कार्य लगभग एक वर्ष से अधूरा पड़ा था।जिससे लोगो को आने जाने में दिक्कत का सामना करना पड़ता था।निर्मल शर्मा ने खेत मालिक पतिराम से पूछा कि आपके खेत की मेढ़ कंहा से है जिस पर पतिराम ने खुद ही खेत की सरहद को मात्र लगभग दो फिट अंदर बताया जिस पर निर्मल शर्मा ने डोर को रखवाकर मामले का निस्तारण करवा दिया।


    जगन्नाथ यादव ने बताया कि अधूरा पड़ा इंटरलॉकिंग के सीध से पटाई सही हो रही थी।फिर भी पतिराम के कहने पर कुछ जगह छोड़ कर मामले का निस्तारण कर लिया गया है।उन्होंने कहा मेरी छवि खराब करने के लिए गांव के कुछ विरोधियों द्वारा षड्यंत रचा गया जो गलत है।इस दौरान पूर्व मंडल अध्यक्ष निर्मल शर्मा मवई मंडल अध्यक्ष अंजनी साहू कानूनगो राम दुलारे तिवारी लेखपाल रवि शंकर रानीमऊ लेखपाल अमित तिवारी उपनिरीक्षक अमरनाथ यादव कांस्टेबल विनोद कुमार अब्दुल हमीद व ग्रामीणों की उपस्थिति में मामले का निस्तारण हुआ।