जिलाधिकारी एवं मुख्य चिकित्साधिकारियों द्वारा कोविड प्रभावित मरीजों से  फोन पर संवाद स्थापित कर उनका फीडबैक प्राप्त किया जाए: मुख्य सचिव

 



   

    कोविड-19 की रोकथाम एवं संक्रमण से बचाव हेतु समस्त कोविड अस्पतालों में चिकित्सकों द्वारा प्रतिदिन नियमित रूप से निरीक्षण (राउण्ड) कर मरीजों को देखा जाए।

पैरा-मेडिकल स्टाफ द्वारा नियमित रूप से कोविड संक्रमित व्यक्तियों की अपेक्षित देखभाल की जाए।

राशन की दुकानों पर खाद्यान्न के समुचित वितरण हेतु नोडल अधिकारियों की तैनाती अवश्य कराई जाए।प्रत्येक गोदाम तथा राशन की दुकान पर कहीं भी घटतौली कतई न होने पाए।

प्रवासी श्रमिकांे तथा सभी असहाय एवं जरूरतमंद व्यक्तियों को शासन के निर्देशानुसार खाद्यान्न उपलब्ध कराया जाए।

समस्त कोरेन्टाइन होम एवं आश्रय गृहों का नियमित रूप से निरीक्षण कर वहां पर भोजन, स्वच्छता, सोशल डिस्टेंसिंग एवं सुरक्षा की उचित व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए।

अभियान चलाकर समस्त शासकीय कर्मियों एवं समस्त व्यक्तियों को ‘‘आयुष कवच कोविड’’ एप डाउनलोड करने हेतु प्रेरित किया जाए।मुख्य सचिव ने परिपत्र के माध्यम से समस्त मण्डलायुक्तों एवं जिलाधिकारियों को दिये निर्देश।

 

  लखनऊ,  उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव श्री राजेन्द्र कुमार तिवारी ने निर्देश दिए कि कोविड-19 की रोकथाम एवं संक्रमण से बचाव हेतु समस्त कोविड अस्पतालों में चिकित्सकों द्वारा प्रतिदिन नियमित रूप से निरीक्षण (राउण्ड) किया जाए तथा मरीजों को देखा जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि पैरा-मेडिकल स्टाफ द्वारा भी नियमित रूप से अपेक्षित देखभाल की जाए। उन्होंने कहा कि अस्पतालों में प्रतिदिन चादर बदली जाए। उन्होंने कहा कि सम्पूर्ण भवन में स्वच्छता का विशेष ध्यान रखा जाए एवं गुणवत्तायुक्त भोजन समय पर उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने जिलाधिकारी एवं मुख्य चिकित्साधिकारियों को निर्देश दिए कि कोविड प्रभावित मरीजों से फोन पर संवाद स्थापित कर उनका फीडबैक भी प्राप्त किया जाए।

             मुख्य सचिव ने यह निर्देश समस्त मण्डलायुक्तों एवं जिलाधिकारियों को परिपत्र के माध्यम से दिए। उन्होंने राशन की दुकानों पर खाद्यान्न के समुचित वितरण हेतु नोडल अधिकारियों की तैनाती अवश्य कराये जाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि खाद्यान्न के समुचित वितरण हेतु शिक्षकों, ग्राम पंचायत एवं विकास खण्ड स्तरीय अधिकारियों को भी लगाया जा सकता है। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रत्येक गोदाम तथा राशन की दुकान पर कहीं भी घटतौली कतई न होने पाए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक राशन की दुकानों पर पौस मशीनों को क्रियाशील रखा जाए तथा उचित मात्रा में सैनिटाइजर एवं साबुन की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि प्रवासी श्रमिकांे तथा सभी असहाय एवं जरूरतमंद व्यक्तियों को शासन के निर्देशानुसार खाद्यान्न उपलब्ध कराया जाए।


            श्री तिवारी ने निर्देश दिए कि समस्त कोरेन्टाइन होम एवं आश्रय गृहों का नियमित रूप से निरीक्षण कर वहां पर भोजन, स्वच्छता, सोशल डिस्टेंसिंग एवं सुरक्षा की उचित व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने कहा कि ‘‘आयुष कवच कोविड’’ एप रोगों से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने तथा उनसे बचाव करने में काफी उपयोगी है। उन्होंने कहा कि अभियान चलाकर समस्त शासकीय कर्मियों एवं समस्त व्यक्तियों को ‘‘आयुष कवच कोविड’’ एप डाउनलोड करने हेतु प्रेरित कर इसमें प्रगति लाई जाए।