जिलाधिकारी ने कोविड-19 हास्पिटल ट्रामा सेन्टर का किया औचक निरीक्षण


      जिलाधिकारी ने कोविड-19 हास्पिटल ट्रामा सेन्टर लालगंज, विकास खण्ड लालगंज एवं ग्राम निगरानी समिति धधुआ गाजन का किया औचक निरीक्षण, कोविड-19 हास्पिटल में भर्ती मरीजों से उनके स्वास्थ्य, खान-पान एवं साफ सफाई व्यवस्था के सम्बन्ध ली जानकारी,ब्लाक लालगंज में अनुपस्थित 08 कर्मचारियों का जिलाधिकारी ने एक दिन के वेतन भुगतान पर लगायी रोक एवं स्पष्टीकरण का दिया निर्देश। 

      प्रतापगढ़, जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार ने आज कोविड-19 एल-1 हास्पिटल ट्रामा सेन्टर लालगंज, विकास खण्ड लालगंज एवं ग्राम निगरानी समिति धधुआ गाजन का औचक निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने कोविड-19 एल-1 हास्पिटल ट्रामा सेन्टर लालगंज में भर्ती कोरोना पाजिटिव मरीज राजू कोरी, सुमन शुक्ला, सुमित कुमार शुक्ल, रामलली से उनके स्वास्थ्य, खान-पान, साफ-सफाई, डाक्टरों द्वारा प्रतिदिन स्वास्थ्य परीक्षण, चद्दर बदलने एवं अस्पताल में किसी भी प्रकार समस्या तो नही के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की तो भर्ती मरीजों द्वारा बताया गया कि स्वास्थ्य बिल्कुल ठीक है, समय-समय पर भोजन प्राप्त होता है, डाक्टर प्रतिदिन स्वास्थ्य परीक्षण करते है, चद्दर समय-समय पर बदली जाती है, साफ-सफाई प्रतिदिन की जाती है तथा अस्पताल में किसी भी प्रकार की समस्या नही है। इस दौरान सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के प्रभारी अधीक्षक द्वारा बताया गया कि राजू कोरी और विनोद उपाध्याय के रिपोर्ट निगेटिव प्राप्त हो गयी है आज इन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज करते हुये होम क्वारेन्टाइन हेतु भेजा जायेगा। 



   विकास खण्ड लालगंज के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने उपस्थिति पंजिका का अवलोकन किया तो वरिष्ठ सहायक राम गोपाल, एडीओ आईएसबी सत्यदेव यादव, एपीओ अनीस खान, बीटी रमेश कुमार सिंह, टीए शिवराम, दयाराम, सुरेन्द्र शुक्ला, लाल बहादुर अनुपस्थित पाये गये जिस पर जिलाधिकारी ने अनुपस्थित कर्मचारियों के एक दिन के वेतन भुगतान पर रोक लगाते हुये स्पष्टीकरण हेतु खण्ड विकास अधिकारी को निर्देशित किया।


     प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण अन्तर्गत निर्मित भवनों के सम्बन्ध में जानकारी ली तो खण्ड विकास अधिकारी द्वारा बताया गया कि प्रधानमंत्री आवास योजना अन्तर्गत 206 आवास स्वीकृत है जिसमें 200 का निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है शेष का निर्माण कार्य शीघ्र पूर्ण किया जायेगा तथा मुख्यमंत्री आवास योजनान्तर्गत 21 आवास स्वीकृत है जिसमें 16 का निर्माण कार्य पूर्ण हो गया है तथा शेष 05 का निर्माण कार्य जल्द पूर्ण किया जायेगा। जिलाधिकारी ने मनरेगा योजनान्तर्गत वृक्षारोपण के सम्बन्ध में जानकारी ली तो बताया गया कि वृक्षारोपण हेतु गड्ढे खोदे गये है लेकिन जीओ टैगिंग का कार्य अभी तक नही हुआ है, जिस पर जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि जीओ टैगिंग कराकर वृक्षारोपण का कार्य प्रारम्भ किया जाये।



       जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि गर्मी का मौसम चल रहा है गांवो में पीने के पानी की समस्या और हैण्डपम्पों के रिबोर, मरम्मत आदि कार्य से सम्बन्धित शिकायत प्राप्त हो तो उसका निस्तारण प्राथमिकता के आधार पर समय से सुनिश्चित किया जाये और गांव के अन्दर तालाबों में पानी भरवाया जाये जिससे पशु-पक्षियों को पानी पीने की समस्या का सामना न करना पड़े। निरीक्षण में यह तथ्य प्रकाश में आया कि कई ग्राम पंचायत अधिकारी और ग्राम विकास अधिकारी को अधिक संख्या में ग्रामसभाओं का आवंटन किया गया था जिस पर जिलाधिकारी ने खण्ड विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि मानक के अनुरूप ग्रामसभाओं का आवंटन किया जाये।


      जिलाधिकारी ने ग्राम प्रधान की अध्यक्षता में गठित ग्राम निगरानी समिति धधुआ गाजन में होम क्वारेन्टाइन किये गये लोगों के सम्बन्ध में जानकारी ली तो खण्ड विकास अधिकारी द्वारा बताया गया कि इस ग्रामसभा में 156 प्रवासी श्रमिक आये है जिन पर ग्राम निगरानी समिति द्वारा निरन्तर सतर्क दृष्टि रखी जा रही है। जिलाधिकारी ने ग्रामसभा में आये हुये प्रवासी श्रमिक संजय और तुलसीराम यादव से उनके स्वास्थ्य, राशन की उपलब्धता तथा अन्य प्रान्त में उनके द्वारा क्या कार्य किये जा रहे थे के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की। उन्होने इस दौरान आशा से कहा कि होम क्वारेन्टाइन किये गये व्यक्तियों से नियमित भ्रमण कर उनके स्वास्थ्य के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करें औरय सीएचसी अधीक्षक को सूचित करें तथा खण्ड विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि जो व्यक्ति होम क्वारेन्टाइन किये गये है उनके होम क्वारेन्टाइन की अवधि पूर्ण होने पर उन्हें मनरेगा जॉब कार्ड के माध्यम से रोजगार भी उपलब्ध कराया जाये। निरीक्षण के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अरविन्द कुमार श्रीवास्तव एवं जिला सूचना अधिकारी विजय कुमार भी उपस्थित रहे।