काम वाली बाई ने बाटा कोरोना 20 लोग संक्रमित 750 हुए क्वॉरेंटाइन

     नई दिल्ली, अनलॉक 1.0 के तहत कई चीजों की छूट दी गई। जिंदगी दोबारा पटरी पर लाने की कोशिश शुरू हो गई। इसी बीच काफी दिनों से लोगों ने घरों में काम करने वाली बाई को छुट्टी दे रखी थी, लेकिन दूसरी चीजों पर मिली रियायत के बाद लोगों ने भी दोबारा मेड को काम पर बुलाने की इजाजत दे दी। मगर दिल्ली के पीतापुरा के एक निवासी को ऐसा करना महंगा पड़ गया। दरअसल कामवाली बाई के चलते 20 लोग संक्रमित ) हो गए हैं। इतना ही नहीं उससे इलाके के दूसरे लोगों को भी संक्रमण का खतरा हो गया है। इसलिए 750 लोगों को क्वारंटीन किया गया है। साथ ही पूरे एरिया को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है।








      डीएम के अनुसार दिल्ली के पीतमपुरा  इलाके में पहला मामला सामने आया था। उसके बाद मामले और बढ़े तो तुरंत ही पूरा इलाका सील कर दिया गया। संक्रमण एक घर में काम करने वाली महिला की वजह से फैला है। इस महिला से पहले एक बच्चा और फिर घर के अन्य सदस्य संक्रमित हो गए। हाउसमेड की वजह से पीतमपुरा के तरुण एंक्लेव में 20 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, जिसके बाद 3 जून को पूरे इलाके को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है। इतने लोगों के एक साथ कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद इलाके को सील किया गया है। साथ ही उत्तरी एमसीडी को इलाके को सैनेटाइज करने का टास्क दिया गया है। कामवाली बाई को सुपर स्प्रेडर कहा जा रहा है। क्योंकि उसके जरिए कई लोग संक्रमित हुए हैं।


     मालूम हो कि दिल्ली में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। गुरुवार को ही कोरोना के संक्रमण के 1369 नए केस सामने आए हैं। नए मामलों के साथ ही राजधानी में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 25004 पर पहुंच गई है। वायरस के संक्रमण से अब तक 650 लोगों की मौत हो चुकी है।