नोडल अधिकारी उचित दर दुकानों का रेण्डम आधार पर सत्यापन कर रिपोर्ट की प्रति सम्बन्धित जिलाधिकारी को तथा खाद्य आयुक्त को उपलब्ध करायें: मुख्य सचिव

         


     लाॅकडाउन के उपरान्त प्रदेश में आये हुये प्रवासियों के चिन्हीकरण एवं समस्त लाभार्थियों को अनुमन्य खाद्यान्न की उपलब्धता सुनिश्चित किये जाने हेतु मुख्य सचिव ने मण्डलायुक्तों के नियंत्रणाधीन नोडल अधिकारियों को दिये निर्देश।
नोडल अधिकारी सौंपे गये कार्यों के साथ-साथ 01 से 10 जून, 2020 तक किये गये खाद्यान्न वितरण व इसके पश्चात 15 जून से किये जाने वाले खाद्यान्न वितरण की व्यवस्था का भी निरीक्षण करें।
गेहूं खरीद की स्थिति की जांच कर सुनिश्चित करें कि क्रय केन्द्रों पर गेहूं नियमों के अनुरूप खरीदा जाये।



    लखनऊ, मुख्य सचिव ने मण्डलायुक्तों के नियंत्रणाधीन नोडल अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे सौंपे गये कार्यों के साथ-साथ दिनांक 01 जून से दिनांक 10 जून, 2020 तक किये गये खाद्यान्न वितरण व इसके पश्चात 15 जून से किये जाने वाले खाद्यान्न वितरण की व्यवस्था का भी निरीक्षण करें। उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन के उपरान्त प्रदेश में आये हुये प्रवासियों के चिन्हीकरण एवं समस्त लाभार्थियों को अनुमन्य खाद्यान्न की उपलब्धता सुनिश्चित किये जाने हेतु नोडल अधिकारी उचित दर दुकानों का रेण्डम आधार पर सत्यापन कर रिपोर्ट की प्रति सम्बन्धित जिलाधिकारी को तथा खाद्य आयुक्त को उपलब्ध करायें।


      मुख्य सचिव ने परिपत्र निर्गत कर यह निर्देश समस्त मण्डलायुक्तों के माध्यम से कोरोना वायरस से प्रभावित मरीजों के उपचार, इसके संक्रमण के प्रसार के रोकथाम हेतु उनके नियंत्रणाधीन नोडल अधिकारियों को दिये हैं। उन्होंने दिये गये निर्देशों में कहा है कि निरीक्षण के समय यह देखा जाये कि खाद्य एवं रसद विभाग द्वारा दिये गये आदेशों के क्रम में प्रत्येक राशन की दुकान पर जिला स्तर से नोडल अधिकारियों की तैनाती कर उनकी उपस्थिति में खाद्यान्न का वितरण सुनिश्चित कराया जा रहा है अथवा नहीं।


    मुख्य सचिव ने बताया है कि पूर्व में जिलाधिकारियों को दिशा-निर्देश जारी किये गये थे कि अन्य राज्यों से आये हुये उत्तर प्रदेश के प्रवासी मजदूरों/व्यक्तियों को अस्थाई राशनकार्ड की व्यवस्था कर खाद्यान्न उपलब्ध कराया जाये। उचित दर विक्रेता द्वारा नोडल अधिकारी की उपस्थिति में प्रवासियों/अवरुद्ध प्रवासियों को 05 किलोग्राम प्रति यूनिट निःशुल्क खाद्यान्न एवं 01 किलोग्राम प्रति कार्ड निःशुल्क चना का वितरण किया जायेगा तथा उसका विवरण अनुरक्षित किया जायेगा। खाद्यान्न का वितरण विक्रेता द्वारा ई-पाॅस के माध्यम ओ0टी0पी0 सत्यापन/आधार प्रमाणीकरण करवाकर नोडल/पर्यवेक्षणीय अधिकारी की उपस्थिति में किया जायेगा। नोडल अधिकारी इस तथ्य की समीक्षा करें कि ऐसे समस्त प्रवासियों को राशन उपलब्ध करा दिया गया है। सर्वे पूर्ण कराये गये प्रवासी/अवरुद्ध प्रवासियों की संख्या तथा जारी राशनकार्डों की संख्या में आ रहे अन्तर को भी स्पष्ट किया जाये।


       मुख्य सचिव ने कहा कि खाद्यान्न की गुणवत्ता एवं घटतौली की कतिपय शिकायतें जनपदों से प्राप्त हुई हैं, अतः नोडल अधिकारी यह सुनिश्चित कर लें कि राशन की दुकान पर जिलाधिकारी द्वारा तैनात नोडल अधिकारियों द्वारा राशन वितरण अपने समक्ष तुलवाकर ही कराये जाने की व्यवस्था का अनुपालन किया जा रहा है अथवा नहीं। ई-पाॅस मशीन सुचारु रूप से कार्य कर रही हैं व खाद्यान्न का वितरण ई-पाॅस मशीन द्वारा किया जा रहा है।


       राजेन्द्र कुमार तिवारी ने नोडल अधिकारियों को यह भी निर्देश दिये कि वह ब्लाॅक स्थित गोदामों पर वैइंग ;ॅमपहीपदहद्ध मशीन की स्थापना के सम्बन्ध में सम्पूर्ण सूचना जिला खाद्य एवं विपणन अधिकारी से प्राप्त करते हुये यह सुनिश्चित कर लिया जाये कि ये मशीनें सुचारु रूप से कार्य कर रही हैं। नोडल अधिकारी यह भी देख लें कि जो भी वैइंग मशीन लगायी गई हैं, उनका उपयोग सम्बन्धित गोदाम में किया जा रहा है अथवा नहीं या कोई अन्य व्यवस्था उपयोग में लायी जा रही है। इसके साथ ही आख्या में वैइंग मशीनों के सुचारु रूप से संचालन की स्थिति से भी अवगत करायेंगे।


   मुख्य सचिव ने कहा कि नोडल अधिकारी गेहूं खरीद की स्थिति की भी जांच कर यह सुनिश्चित कर लें कि जो भी कृषक अपनी उपज क्रय केन्द्र पर ला रहा है, उसका गेहूं नियमों के अनुरूप खरीदा जाये, ताकि कृषकों को असुविधा का सामना न करना पड़े।