न्यायालय में जनसामान्य की सहायता हेतु हेल्पलाइन नम्बर जारी

         अदालते खोले जाने पर पूर्व में जारी की गई गाईडलाइन का सख्ती से सभी को करना होगा पालन,न्यायालय में जनसामान्य की सहायता हेतु हेल्पलाइन नम्बर जारी,अधिवक्तागण ईकोर्टस सर्विसेस ऐप तथा न्याय बन्धु ऐप डाउनलोड कर समस्त जानकारी घर बैठे प्राप्त करें।

    प्रतापगढ़,  सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण राजीव मुकुल पाण्डेय ने अवगत कराया है कि माननीय उच्च न्यायालय इलाहाबाद ने दिनांक 08 जून 2020 से प्रदेश की समस्त जिला अदातलों और अपने अधीन कार्यरत अधिकरणों को पूरी तरह से खोले जाने का निर्देश दिया है। नई गाईड लाईन कन्टेनमेन्ट जोन की जिला अदातलों पर लागू नहीं होगें। सभी को अदालते खोले जाने पर पूर्व में जारी की गई सभी गाईड लाईन का सख्ती से पालन करना होगा। एक कोर्ट रूम में सिर्फ चार कुर्सिया रखी जायेंगी। एक समय में चार से अधिक अधिवक्ता नहीं होगें, सिर्फ वही अधिवक्ता व वादकारियों को न्यायालय में प्रवेश की अनुमति होगी जिनके मामलें सुनवाई हेतु नियत है।


     मास्क व सेनेटाईजर का उपयोग तय गाईड लाइन के अनुसार करना होगा। पीठासीन अधिकारी व कर्मचारी, विद्वान अधिवक्तागण एवं वादकारी कार्य समाप्त होते ही न्यायालय परिसर छोड़ देगें। माननीय उच्च न्यायालय इलाहाबाद के आदेशानुसार समस्त न्यायालय पूर्व की भांति कार्य करेगें तथा मात्र तीन न्यायालय क्रमशः जिला एवं सत्र न्यायालय पूर्वान्ह 11.30 से दोपहर 12.30 बजे एवं दोपहर 12.30 बजे से अपरान्ह 1 बजे तक, प्रधान न्यायाधीश, परिवार न्यायालय पूर्वान्ह 9.30 बजे से पूर्वान्ह 10.30 बजे तक एवं पूर्वान्ह 11.00 बजे से पूर्वान्ह 11.30 बजे एवं न्यायालय मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रातः 7 बजे से पूर्वान्ह 9 बजे तक वर्चुअल न्यायालय के माध्यम से कार्य करेगें। रिमाण्ड व विचाराधीन बंदियों से सम्बन्धित सभी कार्य वीडियो कान्फ्रेसिंग से ही करने होगें।


     नवीन प्रार्थना पत्र न्यायालय के फाईलिंग काउन्टर पर लिये जायेगें साथ ही जनपद न्यायालय में वैकल्पिक रूप से पूर्व में संचालित ई-मेल आईडी dcpracomputer@gmail.com  पर भी प्रस्तुत किये जा सकेगें। अदालत में उपस्थित होते समय पुरूष अधिवक्ता सफेद शर्ट व हल्के रंग की पैन्ट तथा महिला अधिवक्ता सादा हल्के रंग का वस्त्र पहनेंगी। पूर्व में जारी अन्य गाईड लाइन का भी पालन करना होगा। न्यायालय परिसर में सभी स्वच्छता बनाये रखेगें तथा न्यायालय परिसर में गुटखा, तम्बाकू आदि का सेवन पूर्णतः वर्जित रहेगा, पान/गुटखा की पीक आदि से परिसर खराब किये जाने पर आवश्यक विधिनुसार कार्यवाही की जायेगी। जनसामान्य की सहायता हेतु जनपद न्यायालय की ई-मेल आईडी dcpracomputer@gmail.com  एवं हेल्पलाइन नम्बर-9452301000, 9140083934, 8707432727, 9532704600 भी उपलब्ध है। उन्होने अधिवक्तागण से अनुरोध करते हुये कहा है कि वे ईकोर्टस सर्विसेस ऐप तथा न्याय बन्धु ऐप डाउनलोड करें तथा समस्त जानकारी घर बैठे प्राप्त करें।