प्रशासन कोरोना संक्रमण से बचाव एवं प्रवासी श्रमिकों के सहयोग को रहे तैयार- डा0 रूपेश कुमार


  जिलाधिकारी ने टीम-11 के अधिकारियों के साथ की बैठक दिये आवश्यक दिशा निर्देश,हॉट-स्पाट क्षेत्र ग्राम पूरे तोलई, तिलौरी एवं हरिशंकरपुर को किया गया प्रतिबन्ध से मुक्त,कोरोना पाजिटिव पाये जाने वाले तहसील क्षेत्र के पल्टन बाजार को किया गया सील।

       प्रतापगढ़, जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार की अध्यक्षता में आज कैम्प कार्यालय में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव, रोकथाम एवं आमजनमानस को आवश्यक सुविधाये सुनिश्चित करने हेतु गठित टीम-11 के साथ बैठक की गयी। बैठक में जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि मोबाईल मेडिकल वैन के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु क्या करें क्या न करें के सम्बन्ध में व्यापक प्रचार प्रसार किया जाये। आशा एवं आशा संगिनि प्रति दिन होम क्वारेन्टाइन किये गये व्यक्तियों के घरों पर जाये, यदि किसी भी व्यक्ति में कोरोना संक्रमण का लक्षण पाया जाता है तो उसकी सूचना तुरन्त स्वास्थ्य विभाग को दी जाये, जिससे डाक्टरों के माध्यम से उसका सैम्पल लेकर जांच हेतु भेजा जाये, इस कार्य में डाक्टरों द्वारा किसी भी प्रकार की लापरवाही एवं शिथिलता न बरती जाये।


     जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी ने निर्देशित किया कि जिला अस्पताल में बने कोविड-19 मरीजों हेतु बने आइसोलेशन वार्ड में डाक्टर एवं पैरामेडिकल स्टाफ के अलावा अन्य किसी भी व्यक्ति का प्रवेश वर्जित किया जाये।


     जिलाधिकारी ने बैठक में  सभी उपजिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि प्रवासी श्रमिकों के डाटा फीडिंग कार्य में नाम, पिता का नाम, पता, खाता संख्या, आई0एफ0एस0सी0 कोड, मोबाईल नम्बर आदि निर्धारित प्रारूप पर पुनः जांच कर डाटा फीडिंग का कार्य पूर्ण कराया जाये जिससे शासन द्वारा योजनाओं का लाभ दिया जा सके।


      जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) को निर्देशित किया कि सभी उपजिलाधिकारियों से प्रमाण पत्र प्राप्त कर लें कि फीडिंग कराये गये डाटा में कोई भी गड़बड़ी नही है। बैठक में जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी, जिला पूर्ति अधिकारी सहित सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया कि राशन की दुकानों पर खाद्यान्न के समुचित वितरण हेतु नोडल अधिकारियों की तैनाती की जाये, इस कार्य हेतु शिक्षकों एवं ग्राम पंचायतों/विकास खण्ड स्तरीय अधिकारियों को भी लगाया जाये। उन्होने अधिकारियों को निर्देशित किया कि अपने अधीनस्थ कर्मचारियों एवं समस्त व्यक्तियों को आयुष कवच कोविड ऐप को डाउनलोड करने के लिये प्रेरित किया जाये क्योंकि आयुष कवच ऐप रोगों से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने तथा उनसे बचाव करने में काफी उपयोगी है। 


      जिलाधिकारी ने बैठक में बताया कि नगर पालिका क्षेत्र 41 पल्टन बाजार निवासिनी आसिमा बेगम पत्नी रफीक के कोरोना पाजिटिव पाये जाने के दृष्टिगत कोविड-19 के फैलाव को रोकने एवं बचाव व नियंत्रण हेतु इस स्थल के 250 मीटर परिधि/सम्पूर्ण मोहल्ला को अस्थाई रूप से सील कर दिया गया है एवं परिसर में प्रवेश व निकास एवं वाहनों के संचालन को (अपरिहार्य स्थिति को छोड़कर) प्रतिबन्धित किया गया है।


        जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी एवं अधिशासी अधिकारी को निर्देशित किया कि पल्टन बाजार क्षेत्र को सेनेटाइज कराया जाये तथा स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा घर-घर जाकर लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जाये। उन्होने निर्देशित किया कि उपजिलाधिकारी सदर अपने काउण्टर पार्ट क्षेत्राधिकारी नगर के साथ तथा तहसीलदार सदर, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नगर के साथ इस हाट-स्पॉट क्षेत्र का नियमित अन्तराल पर भ्रमण कर हॉट स्पाट क्षेत्रों के नियमों के कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित करायेगें। उन्होने बताया है कि पल्टन बाजार में मजिस्ट्रेट के रूप में प्रातः 6 बजे से सायं 6 बजे तक धनेश तिवारी एडीओ (सह0) मुख्यालय 9451022542 को सायं 6 बजे से प्रातः 6 बजे तक सुहेल खां सहायक चकबन्दी अधिकारी सदर 7459991948 को तैनात किया गया है।


      डा0 रूपेश कुमार ने बताया कि कि कोविड-19 की जांच में ग्राम पूरेतोलई, मझिलहा ढेकाही थाना अन्तू, ग्राम तिलौरी थाना व तहसील कुण्डा तथा ग्राम हरिशंकरपुर, महराजपुर थाना हथिगंवा में कोरोना पाजिटिव व्यक्ति पाये जाने के फलस्वरूप सम्पूर्ण राजस्व ग्राम की सीमा को अस्थाई रूप से सील करते हुये इस क्षेत्र को कन्टेनमेन्ट घोषित किया गया था।


      हॉट स्पॉट क्षेत्र के कन्टेनमेन्ट की 21 दिवसीय अवधि पूर्ण हो चुकी है और वहां पर कोई कोरोना पाजिटिव केस तथा कोविड-19 परिलक्षित लक्षण का कोई व्यक्ति नही पाया गया है ऐसी दशा में हॉट-स्पाट क्षेत्र ग्राम पूरेतोलई, तिलौरी एवं हरिशंकरपुर पर लगाये गये प्रतिबन्ध समाप्त कर दिये गये है तथा उस क्षेत्र में सोशल डिस्टेसिंग बनाये रखते हुये शासन द्वारा जारी निर्देशों के अनुपालन करते हुये निर्धारित समय तक दुकानें तथा सामान्य गतिविधियां संचालित की जा सकेंगी। बैठक में अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) शत्रोहन वैश्य, मुख्य राजस्व अधिकारी श्रीराम यादव, उपजिलाधिकारी सदर मोहन लाल गुप्ता, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 अरविन्द कुमार श्रीवास्तव, जिला सूचना अधिकारी विजय कुमार सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।