श्रमिक विशेष ट्रेनों की उपेक्षा कर रही सरकार : प्रियंका गांधी

 


     


     नई दिल्ली (मानवी मीडिया): कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने रविवार को आरोप लगाया कि श्रमिक विशेष रेलगाड़ियों को रेलवे द्वारा नजरअंदाज किया जा रहा है। इसके कारण 40 प्रतिशत ट्रेन देरी से चल रही हैं, कई लोग अपने रास्ते से भटक गए हैं और 80 यात्रियों की मौत हो गई है। उन्होंने ट्वीट किया, "रेल मंत्रालय का कहना है कि कमजोर लोगों को यात्रा नहीं करनी चाहिए, जो कि चौंकाने वाली बात है। श्रमिक ट्रेनों को शुरू से ही अनदेखा किया जा रहा है। इस समय रेलवे को लोगों के प्रति अधिक संवेदनशील होना चाहिए।"रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वी.के. यादव ने शुक्रवार को कहा था, "रेल यात्रा के दौरान कुछ लोगों की मौत हो गई, रेलवे इसका विवरण जुटा रहा है।"


     उन्होंने आगे कहा, "इस मुश्किल समय में रेलवे अपनी पूरी कोशिश कर रहा था। 12 लाख रेलवे कर्मचारी हर ट्रेन को समय पर अपने गंतव्य तक पहुंचाने के लिए प्रयास कर रहे थे।"मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि 4,000 से अधिक श्रमिक गाड़ियों ने 54 लाख से अधिक लोगों को उनके गंतव्य तक पहुंचाया है। इसमें कहा गया है कि राज्यों को भेजने संबंधी सभी अनुरोध पर काम किया। उन्होंने कहा, "कई राज्यों ने अपनी आवश्यकताओं को कम कर दिया है, यह दर्शाता है कि काम पूरा होने वाला है।" लगभग 75 फीसदी ट्रेनें उत्तर प्रदेश और बिहार जा रही हैं और बाकी पूर्वी भारत की ओर जा रही थीं।