सड़कों पर बेरोजगार,एक्शन में योगी सरकार

                         


मुख्यमंत्री ने सभी विभागों में रिक्त पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया को शुरू करने के निर्देश दिए, मुख्य सचिव सहित समस्त अपर मुख्य सचिव तथा प्रमुख सचिवगण 01 सप्ताह में रिक्त पदों का विवरण उपलब्ध कराएं।



लखनऊ, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी विभागों में रिक्त पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया को शुरू करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने मुख्य सचिव सहित समस्त अपर मुख्य सचिव तथा प्रमुख सचिवगण को 01 सप्ताह में रिक्त पदों का विवरण उपलब्ध कराने के लिए निर्देशित किया है।


  मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार ने पारदर्शी एवं निष्पक्ष भर्ती प्रक्रिया को अपनाते हुए अब तक 03 लाख से अधिक अभ्यर्थियों को नौकरियां दी हैं। इस कार्य को पूरी तेजी से आगे बढ़ाते हुए आगामी समय में भी पारदर्शितापूर्ण और निष्पक्ष ढंग से भर्ती प्रक्रिया को संचालित किया जाए। उन्होंने कहा कि आगामी 03 माह में भर्ती की प्रक्रिया को प्रारम्भ करते हुए 06 माह में चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र प्रदान कर दिए जाएं।


बेरोजगारी को लेकर सड़कों पर उतरे युवाओं की मुहिम का प्रदेश की योगी सरकार पर असर पड़ता दिखाई दे रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को लोकभवन में अफसरों के साथ बैठक की और सरकारी विभागों में खाली पड़े पदों का ब्यौरा मांगा है और 21 सितंबर को सभी भर्ती आयोगों की बैठक बुलाई है।


आगामी 03 माह में भर्ती की प्रक्रिया को प्रारम्भ करते हुए 06 माह में चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र प्रदान कर दिए जाएं। प्रदेश की विभिन्न भर्ती संस्थाओं के पदाधिकारियों के साथ बैठक करते हुए चयन परीक्षाओं के आयोजन के सम्बन्ध में कार्य योजना तैयार की जाए।


17 सितंबर को पीएम नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर बेरोजगारी के मुद्दे पर हुए व्यापक प्रदर्शन और विपक्ष के विरोध के बाद योगी सरकार काफी सक्रिय दिखाई दे रही है। नौकरियों को लंबित रखने और बेरोजगारी पर विपक्ष के आरोप लगाने के बाद योगी सरकार ने शुक्रवार को शासकीय भर्तियों की वो सूची जारी की है, जिसमें 2017 से अब तक सरकारी पदों पर दी गई कुल नौकरियों का विवरण दिया गया है। सरकार ने इस सूची में 2017 से अब तक कुल 3.79 लाख पदों पर नौकरी देने या नौकरी देने की प्रकिया जारी होने का दावा किया है।


यह निर्देश भी दिए हैं कि प्रदेश की विभिन्न भर्ती संस्थाओं के पदाधिकारियों के साथ बैठक करते हुए चयन परीक्षाओं के आयोजन के सम्बन्ध में कार्य योजना तैयार की जाए। यह जानकारी आज यहां देते हुए राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि वर्तमान सरकार द्वारा वर्ष 2017 से अब तक रिक्त पदों के सापेक्ष की गयी भर्ती में पुलिस विभाग में 137253 तथा बेसिक शिक्षा विभाग में 54706 भर्तियां की जा चुकी हैं। चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग में समूह ‘ख’, ‘ग’ एवं ‘घ’ की 8556 तथा राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अन्तर्गत 28622 भर्तियां सम्पन्न हुई हैं।


     लोक सेवा आयोग, उ0प्र0 के माध्यम से 26103 तथा उ0प्र0 अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के माध्यम से 16708 भर्तियां की गयी हैं। माध्यमिक शिक्षा विभाग (राजकीय एवं सहायता प्राप्त विद्यालय) के अन्तर्गत 14000 तथा उच्च शिक्षा विभाग (विश्वविद्यालय/महाविद्यालय) में 4615 भर्तियां की जा चुकी हैं।


प्रदेश सरकार ने पारदर्शी एवं निष्पक्ष भर्ती प्रक्रिया को अपनाते हुए अब तक 03 लाख से अधिक अभ्यर्थियों को नौकरियां दीं। इस कार्य को पूरी तेजी से आगे बढ़ाते हुए आगामी समय में भी पारदर्शितापूर्ण और निष्पक्ष ढंग से भर्ती प्रक्रिया को संचालित किया जाए।


चिकित्सा शिक्षा विभाग में 1112, नगर विकास विभाग में 700, सहकारिता विभाग में 726, वित्त विभाग में 614, प्राविधिक शिक्षा विभाग/व्यावसायिक शिक्षा विभाग में 365 तथा उ0प्र0 पावर काॅर्पोरेशन (ऊर्जा विभाग) में 6446 भर्तियां की गयी हैं।


    प्रवक्ता ने बताया कि बेसिक शिक्षा विभाग में 69000, पुलिस विभाग में 16629 भर्तियां तथा उ0प्र0 पावर काॅर्पोरेशन (ऊर्जा विभाग) में 853 भर्तियां प्रक्रियाधीन हैं। कुल 86482 भर्तियां प्रक्रियाधीन हैं।