कृषि आधारभूत संरचना निधि की जिलास्तरीय मानिटरिंग समिति की बैठक

 

 


    अयोध्या, केन्द्र सरकार द्वारा पोषित योजना कृषि आधारभूत सरंचना निधि (ए0आई0एफ0) के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु अनुज कुमार झा, जिलाधिकारी, अयोध्या की अध्यक्षता में जिला स्तरीय मानिटरिंग समिति की बैठक जिलाधिकारी कार्यालय के सभागार में आयोजित की गई। इस बैठक में जिलाधिकारी ने  कृषि आधारभूत संरचना के विकास हेतु सभी विभागों को कार्य करने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने इस योजना हेतु सभी विभागों से लाभार्थियों के जल्द चयन का निर्देश दिया तथा योजना के प्रचार-प्रसार हेतु अपने स्तर से प्रयास करने का निर्देश दिया है।

     बैठक में प्रथमेश कुमार, मुख्य विकास अधिकारी ने जिला कृषि अधिकारी एवं मुख्य पशुचिकित्साधिकारी को इस बात का निर्देश दिया कि इस योजना के प्रति लोगों में जागरुकता बढ़ाने हेतु सभी विकासखंडों में किसानों की एक सभा का आयोजन किया जाए और किसानों के बीच इस योजना के संबंध में जागरूकता फैलाया जाय। उन्होनें कृषि विभाग को इस संबंध में जल्द से जल्द किसानों की बैठक आयोजित करने के निर्देश दिये।

      जिला स्तरीय मानिटरिंग समिति के सदस्य सचिव परमेश्वर लाल पोद्दार, जिला विकास प्रबंधक नाबार्ड ने समिति के सदस्यों को बताया कि इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश राज्य हेतु 12831 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। इसके तहत किसान (एफपीओ, पैक्स, मार्केटिंग सहकारी समिति, मल्टी कॉपरेटिव संस्थान) को फार्म गेट पर अवस्थापना सृजित करने हेतु वित्तीय संस्थाओं द्वारा उपलब्ध कराये गये ऋण पर 3 प्रतिशत ब्याज की छूट केन्द्र सरकार देगी। ऋण पर 3 प्रतिशत ब्याज की छूट अधिकतम 2 करोड़ रूपये के ऋण हेतु मिलेगा, 2 करोड़ से ज्यादा ऋण होने पर ब्याज में छूट 2 करोड़ तक के लिए ही लागू होगा। इस योजना के तहत कोल्ड स्टोरेज, गोदान, पैकिंग यूनिट, रेपनिंग चेम्बर, आर्गेनिक कृषि आदि के लिए बैंकों से कम ब्याज दर पर ऋण का लाभ लिया जा सकता है। 


       इस बैठक में डा ए के श्रीवास्तव, मुख्य पशुचिकित्साधिकारी, डा अशोक कुमार, उप निदेशक कृषि, बी के सिंह, जिला कृषि अधिकारी, शशिकांत यादव, कार्यक्रम समन्वयक, कृषि विज्ञान केंद्र,  हरि किशोर वर्मा, ज्येष्ठ कृषि विपणन निरीक्षक समेत विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने सहभागिता की।