सहकार से समृद्धि का जरिया बनेगा मिनिस्ट्री ऑफ कोऑपरेशन: योगी


 सहकार से समृद्धि का जरिया बनेगा मिनिस्ट्री ऑफ कोऑपरेशन,नया मंत्रालय प्रधानमंत्री की दूरदर्शिता का प्रमाण।



लखनऊ।  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारत सरकार द्वारा गठित नए मंत्रालय ( मिनिस्ट्री ऑफ कोऑपरेशन) का स्वागत किया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि यह भाजपा के सबका साथ सबका विकास नारे को साकार करने में मददगार बनेगा। यह पहल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दूरदर्शिता का एक और प्रमाण है। इससे सहकारिता आंदोलन को एक नई ऊंचाई मिलेगी।मालूम हो कि केंद्र सरकार ने आज ही मिनिस्ट्री ऑफ कोऑपरेशन के नाम से एक नया मंत्रलाय गठित किया है। इससे ईज ऑफ डूइंग बिजनेस को बढ़ावा मिलेगा। साथ ही सहकार से समृद्धि का सपना साकार होगा। 


मुख्यमंत्री ने कहा कि सहकार की भावना हर किसी में जवाबदेही लाएगी। किसी देश के समग्र विकास के लिए जवाबदेही की यह भावना अनिवार्य है। इससे आने वाले दिनों में जमीनी स्तर पर व्यापक बदलाव देखने को मिलेंगे। प्रधानमंत्री जी के इस निर्णय से आने वाले समय में सहकारिता को लेकर जो सपना देखा गया था वह साकार होगा।

 सहकारिता आन्दोलन का मुख्य उद्देश्य कृषकों, ग्रामीण कारीगरों, भूमिहीन मजदूरों और समुदाय के कमजोर एवं पिछड़े वर्ग के कम आय वाले और बेरोजगार लोगों को रोजगार, साख तथा उपयुक्त तकनीकी प्रदान कर अच्छा उत्पादक बनाना है। प्रधानमंत्री के संकल्प से सिद्धि का भी यही मकसद है। उनकी तमाम योजनाओं के केंद्र में समाज के इसी वर्ग का हित है।  नया मंत्रालय समाज के इस वर्ग के अधिकतम और समग्र हित में और मददगार बनेगा।